garibi ka karan jivan me garibi ka karan jivan me

ये चीज़ें देती हैं, कंगाली का संकेत, garibi ka karan jivan me

ये चीज़ें देती हैं, कंगाली का संकेत garibi ka karan jivan me

garibi ka karan jivan me हर किसी के जीवन में कुछ विशेष घटनाएं होती हैं जो व्यक्ति को किसी न किसी और संकेत करती है। परंतु हर किसी के बस में नहीं होता कि वह इन संकेतों को समझ सके। विद्या और ज्ञान ऐसा धन है, जिनके जरिए कठिन और बुरे समय को बड़ी आसानी से काटा जा सकता है। चाणक्य कहते हैं शिक्षित और ज्ञानी पुरुष को हमेशा मान-सम्मान प्राप्त होता है।

आचार्य चाणक्य ने ऐसे ही लोगों के लिए अपने नीति सूत्र में ऐसे पांच चूजें बताएं हैं जिनसे व्यक्ति को कुछ ऐसे संकेत मिलते हैं। इनसे व्यक्ति को पता लगता है कि आने वाले समय में वह कंगाल होने वाला है।  दरअसल यह चीजें आर्थिक स्थिति के कमजोर होने का संकेत देती है यदि आपको भी यह संकेत मिले तो समझ लीजिए कि आपका भविष्य कंगाली की ओर बढ़ रहा है।

चाणकय नीति को ध्यान में रखोगे तो जीवन कभी भी दुक्ख नहीं आएगा आप हमेशा एक हसी भरा जीवन जी सकते हो ऐसा जीवन जिसमे केवल खुसिया ही खुसिया हो जो आपके जीवन को एक नए सिरे से जीने में सहायता करे

आइए जानते हैं कौन सी है वे चीज़े-


तुलसी के पौधे का सूखना


आचार्य चाणक्य के अनुसार हर व्यक्ति को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि उसके घर में लगा तुलसी का पौधा कभी भी सूखे नहीं यदि ऐसा हो तो समझ जाना चाहिए कि आपके साथ कुछ बुरा होने वाला है। कहा जाता है कि सूखा हुआ तुलसी का पौधा आर्थिक स्थिति की कमजोरी को दर्शाता है साथ ही साथ यह भी दर्शाता है कि घर में धन और सुख समृद्धि की कमी होने वाली है।

चाणकय को ध्यान में रखोगे तो जीवन कभी भी दुक्ख नहीं आएगा आप हमेशा एक हसी भरा जीवन जी सकते हो ऐसा जीवन जिसमे केवल खुसिया ही खुसिया हो जो आपके जीवन को एक नए सिरे से जीने में सहायता करे इसलिए ध्यान रखें कि घर में तुलसी का पौधा हमेशा हरा भरा ही हो।

घर में क्लेश रहना


आचार्य चाणक्य के अनुसार  जिस घर में 24 घंटे प्लीज रहता है उस घर की आर्थिक स्थिति धीरे-धीरे कमजोर होने लगती है। जिन घरों में गृह क्लेश अधिक होता है परिवार के लोगों के बीच विवाद की स्थिति बनी रहती है ऐसे घरों में ना तो सुख समृद्धि आती है ना ही लक्ष्मी माता का वास होता है।विद्या और ज्ञान ऐसा धन है, जिनके जरिए कठिन और बुरे समय को बड़ी आसानी से काटा जा सकता है। चाणक्य कहते हैं शिक्षित और ज्ञानी पुरुष को हमेशा मान-सम्मान प्राप्त होता है।

बार-बार कांच का टूटना


चाणक्य नीति के अनुसार घर में कांच का बार-बार टूटना भी अशुभ माना जाता है,  इसे घर में दरिद्रता का वास होता है। तो वहीं यह भी कहा जाता है कि घर में टूटा हुआ कांच का टूटा हुआ शीशा नहीं रखना चाहिए ऐसे में भविष्य में आर्थिक संकट का सामना करने की आशंका होती है।विद्या और ज्ञान ऐसा धन है, जिनके जरिए कठिन और बुरे समय को बड़ी आसानी से काटा जा सकता है। चाणक्य कहते हैं शिक्षित और ज्ञानी पुरुष को हमेशा मान-सम्मान प्राप्त होता है। 

पूजा पाठ का अभाव


जिन घरों में पूजा पाठ का अभाव होता है उस घर में भी  दरिद्रता का वास होता है। परिवार के लोगों के बीच स्नेह कम होने लगता है और भविष्य में कई तरह की समस्याओं से जूझना पड़ता है। चाणकय नीति को ध्यान में रखोगे तो जीवन कभी भी दुक्ख नहीं आएगा आप हमेशा एक हसी भरा जीवन जी सकते हो ऐसा जीवन जिसमे केवल खुसिया ही खुसिया हो जो आपके जीवन को एक नए सिरे से जीने में सहायता करे

एक बार ये भी पढ़े ~

चाणकय नीति को ध्यान में रखोगे तो जीवन कभी भी दुक्ख नहीं आएगा

आचार्य चाणक्य के इन 5 श्लोकों को याद रखें और जीवन में सफल बन

बस न करें ये गलती, कंगाल को भी धनवान बना देंगी चाणक्य की ये नीति, CHANKYA NITI

JOIN TELEGRAMCLICK HERE
JOIN WHATAPPSCLICK HERE
SHORT GK TRICKCLICK HERE
ONLINE TESTCLICK HERE
ALL UPDATECLICK HERE
GKSUBHASHCHARANTESTCLICK HERE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

vvv
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Powered By
Best Wordpress Adblock Detecting Plugin | CHP Adblock